EMI Hike : रेपो रेट में बढ़ोतरी से आपके होम लोन की EMI कितने दिनों तक बढ़ेगी? आपको और कितना पैसा देना होगा?

0
70
EMI hike: Home loan EMI hiked due to repo rate hike? How much more money will you have to pay?

EMI Hike : भारतीय रिजर्व बैंक ने एक बार फिर ब्याज दरों में बढ़ोतरी का फैसला किया है। आरबीआई के इस फैसले से ईएमआई पर कर्ज लेने वालों को बड़ा झटका लगा है।

रेपो रेट में बढ़ोतरी के चलते यह फैसला लिया गया है कि अब उन्हें अपने लोन की ईएमआई ज्यादा देनी होगी।

त्योहारों से पहले ईएमआई पर कर्जदारों को झटका

आरबीआई के रेपो रेट में 50 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी के फैसले के बाद मई से अब तक इसमें 150 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी हुई है। इससे बैंक से कर्ज लेने वालों को सबसे बड़ा झटका लगा है।

रेपो रेट बढ़ने से बैंक जाहिर तौर पर अपनी ब्याज दरें बढ़ाएंगे। ऐसे में तय किया गया है कि उनके द्वारा दिए गए कर्ज की ईएमआई बढ़ेगी।

यह होगा कि मई के महीने में यदि बैंक द्वारा 6.5 प्रतिशत की ब्याज दर पर ऋण दिया जाता है, तो रेपो दर में वृद्धि के बाद, उस ऋण की ब्याज दर में कम से कम डेढ़ प्रतिशत की वृद्धि होगी। ऐसे में बैंक अब 6.5% की ब्याज दर से लिए गए ऋण पर कम से कम आठ प्रतिशत वार्षिक ब्याज लेगा.

10 लाख रुपये के होम लोन पर आपको हर महीने 778 रुपये और चुकाने होंगे

मान लीजिए कि मनिष नाम के व्यक्ति ने छह महीने पहले एक बैंक से 10 साल के लिए 6.5% की दर से 10 लाख रुपये का होम लोन लिया था। उस वक्त उनके कर्ज की ईएमआई 11,355 रुपये थी।

तब से रेपो रेट में 150 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी हुई है। इसका मतलब है कि बैंक उस समय लिए गए लोन पर 6.5% की ब्याज दर से कम से कम 1.5% या उससे अधिक चार्ज करेगा।

यदि बैंक केवल 1.5% अतिरिक्त ब्याज लेता है, तो अब उपरोक्त ऋण की ब्याज दर 6.5% से बढ़कर 8 प्रतिशत हो जाएगी।

इस तरह मनिष के कर्ज पर नई ईएमआई अब 8% की ब्याज दर पर 12,133 रुपये प्रति माह होगी। ऐसे में रामकुमार को पिछले मई के मुकाबले अब अपने कर्ज पर 778 रुपये ज्यादा ईएमआई चुकाने होंगे।

कितनी बढ़ जाएगी 10 लाख रुपये की होम लोन ईएमआई?

लोन की राशि वर्ष ब्याज (% में)   EMI रु. में कुल ब्याज कुल देय राशि (रु. में)
10 लाख (मई में) 10 6.50 11,355 3,62,576 13,62,576
10 लाख  (अब) 10 8.00 12,133 4,55,931 14,55,931
  • मई से अब तक ईएमआई में अंतर -12,133-11,355 = 778
  • कुल राशि पर देय ब्याज में वृद्धि – 3,62,576-4,55,931 = 93,355
  • 10 लाख लोन के बदले पहले चुकाने पड़ते = 13,62,576 रुपये
  • इतनी ही राशि के लोन पर अब चुकाने पड़ेंगे = 14,55,931 रुपये

 नोट: आंकड़े अनुमानित और ईएमआई कैलकुलेटर की गणना पर आधारित हैं।

मई में रेपो रेट 4.4% था अब यह बढ़कर 5.9% हुआ

केंद्रीय बैंक ने इस साल मई से रेपो रेट में 1.50% की बढ़ोतरी की है। इस दौरान रेपो रेट 4.4 से बढ़कर 5.9 फीसदी हो गया है।

बता दें कि रिजर्व बैंक रेपो रेट का इस्तेमाल बाजार में पैसे के प्रवाह को नियंत्रित करने के लिए करता है। रेपो रेट में बढ़ोतरी का मतलब है कि बैंक आरबीआई से जो पैसा लेंगे, उसे बढ़ी हुई ब्याज दर पर उपलब्ध कराया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here